जानिए वंदे भारत एक्सप्रेस या ट्रेन 18 के बारे में ये रोचक तथ्य

जानिए वंदे भारत एक्सप्रेस या ट्रेन 18 के बारे में ये रोचक तथ्य

सभी लोग अत्याधुनिक सुविधाओं के साथ किसी भी सफर में जल्द से जल्द पहुचना चाहते है । इन सभी जरूरतों को देखते हुए ,भारत सरकार ने मेक इन इंडिया (Make in India) के तहत पूरी तरह भारत मे बनने वाली Train 18 या वंदे भारत एक्सप्रेस ( Vande Bharat Express Train) ट्रैन को विकसित किया। आज HMJ आपको ट्रेन 18 के बारे में विस्तार से बताएगा।

Train 18 या Vande Bharat Express की विशेषताएं

इस ट्रेन में आजकल की जरूरतों के हिसाब से सुविधाओ का विशेष तौर पर ध्यान दिया गया था। इसकी सबसे बड़ी विशेषता की बात की जाए तो वह इसकी स्पीड हैं । 180 किमी• प्रति घण्टे की स्पीड से चलने के कारण ही इस ट्रेन का नाम ट्रेन 18 (Train 18) रखा गया।

बाद में इसे वंदे भारत एक्सप्रेस (Vande Bharat Express) नाम दिया गया । इसके कई ट्रायल किये गए और यहां की पटरियों के हिसाब से अभी इसे 130 किमी • की स्पीड में दौड़ाने की अनुमति मिली हैं। अभी हाल ही में भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इसे 15 फरवरी को नई दिल्ली से हरी झंडी दिखाई गई ।15 फरवरी से इसमें आम लोग सफर कर पा रहे है ।

ट्रेन 18 (Train 18) का निर्माण और लागत क्या हैं ?

यह भारत की अर्ध हाई स्पीड ट्रेन हैं। जिसे चेन्नई की इंट्रीगल कोच फैक्ट्रीमें निर्मित किया गया हैं। इसकी लागत 100 करोड़ आयी हैं । चेन्नई में इसे 18 महीने में निर्मित किया गया हैं। हालांकि अगली ट्रेन का जो निर्माण होगा तो उसकी लागत कम आने का अनुमान गया हैं । यह भी माना जाता हैं अभी तक भारत जो यूरोप से कोई भी ट्रेन आयात करता था। उसमें से 40% का खर्च इस ट्रेन को बनाने में आया है।

ट्रेन 18 का रूट क्या है ? (Route Of Train 18)

ट्रेन 18 या वंदे भारत एक्सप्रेस का पहला रूट नई दिल्ली से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस के बीच हैं । इस रूट की पूरी लंबाई 759 किलोमीटर हैं । इस ट्रेन का अप लाइन का ट्रेन नंबर 22435 हैं तथा डाउन लाइन का नंबर 22436 हैं इस रूट के बीच औसत गति को 97.87 किलोमीटर प्रति घंटा रखी गयी हैं, और इस रूट पर इसकी अधिकतम गति को 130 किलोमीटर प्रति घण्टा रखी गयी हैं।
इस रूट में 15 फरवरी 2019 को नरेंद्र मोदी ट्रेन 18 को नई दिल्ली से हरी झंडी दिखायेगे तथा 17 फरवरी 2019 से यह आम लोगो के लिए चालू कर दी जाएगी ।
इस ट्रेन को चलाने के लिए दूसरा रूट बैंगलोर सिटी से चेन्नई सेंट्रल के बीच रखा गया हैं। जिसको अप्रैल 2019 से चालू किया जाएगा।

ट्रेन 18 में सुविधाएं क्या क्या है ? (Facility Of Train 18)

ट्रैन 18 (Train 18) या वंदे भारत एक्सप्रेस (Vande Bharat Express) अपने आप मे ही खास हैं इसकी कुछ विशेषताये निम्न हैं-

• ट्रैन 18 के दरवाजे मेट्रो की भांति ही आटोमेटिक खुलते है ।

• इस ट्रेन में लोगो की सुविधाओं के देखरे हुए चढ़ने उतरने के लिए दरवाजो में ऑटोमैटिक पायदान की व्यवस्था भी दी गयी हैं।

• इस ट्रेन मे यात्रियों के लिए वाई – फाई की सुविधा दी गयी हैं।

•ट्रेन 18 की सीटे पुसबैक के साथ चारो ओर घूम जाती हैं ।

• ट्रेन 18 के प्रत्येक कोच में खाने को गर्म करने के लिए छोटी पैंट्री दी गयी हैं।

• यह ट्रेन रिजनरेटिव ब्रेकिंग प्रणाली से लैस हैं जिससे 30% बिजली की बचत होती हैं।

ट्रेन 18 का किराया कितना है ? (Cost of train 18)

•दिल्ली के बनारस के बीच की दूरी 759 किलोमीटर हैं जिसका चेयर कार का किराया 1850 रुपये और एक्सक्यूटिव क्लास का किराया 3520 रुपये रखा गया हैं।

•दिल्ली के कानपुर के बीच की दूरी 447 किलोमीटर हैं जिसमे चेयर कार का किराया 1150 रुपये और एक्सक्यूटिव क्लास का किराया 2245 रुपये रखा गया हैं।

• दिल्ली से इलाहाबाद के बीच की दूरी 642 किलोमीटर हैं जिसमे चेयर कार का किराया 1480 रुपये और एक्सक्यूटिव क्लास का किराया 2935 रुपये रखा गया हैं।

•कानपुर से इलाहाबाद के बीच की दूरी 195 किलोमीटर हैं जिसमे चेयर कार का किराया 630 रुपये और एक्सक्यूटिव क्लास का किराया 1245 रुपये रखा गया हैं।

•कानपुर से बनारस के बीच की दूरी 319 किलोमीटर हैं ।जिसमे चेयर कार का किराया 1065 रुपये और एक्सक्यूटिव क्लास का किराया 1925 रुपये रखा गया हैं ।

ट्रेन 18 की टाइमिंग क्या है ? (Timing of Train 18)

ट्रेन 18 या वंदे भारत एक्सप्रेस दिल्ली से सुबह 6 बजे चलेगी और रास्ते मे कानपुर में यह 10:18 मिनट में पहुचेगी उसके बाद वहां पर दो मिनट रुकने के बाद यह 10:20 मिनट में यह वहां से चलेगी और 12 :35 मिनट में यह प्रयागराज पहुचेगी अंतिम स्टेशन बनारस यह 2 :00 बजे पहुचेगी।

वापसी में यह ट्रेन 3:00 बजे बनारस से चलेगी और प्रयागराज में यह 4:35 मिनट में पहुचेगी और उसके बाद यह कानपुर में 6:30 बजे पहुचेगी । उसके बाद यह अपने गंतव्य स्थान मतलब आखिरी स्टेशन नई दिल्ली में 11:00 बजे रात में पहुचेगी।

ट्रेन 20 क्या है ? ( What is Train 20)

ट्रेन 20 ट्रेन 18 की उत्तराधिकारी परियोजना हैं जो कि और अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस होगी । जिसमें और अधिक यात्रियों की सुविधाओं का धयान रखा जाएगा। फिलहाल इस प्रोजेक्ट पर भी विचार किया जा रहा हैं।

Final wordsआशा यही है यहां पर ट्रेन 18 की दी गयी जानकारी आप पुरी तरह सन्तुष्ट होंगे अगर आपको यह पोस्ट अछि लगी हो जरूर इसे शेयर करें, क्योंकि शेयर करने से प्यार बढ़ता हैं ,धन्यवाद।

Leave a Comment