सुषमा स्वराज की जीवनी|Sushma swaraj biography in hindi|

Sushma swaraj biography in hindi: भारत की राजधानी नई दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री सुषमा स्वराज का अभी हाल ही में हार्ट अटैक से निधन हो गया है। वह राजनीतिक भाजपा की प्रसिद्ध नेत्री थी, भाजपा के 2014 में केंद्र में सरकार होने पर वह विदेश मंत्री रही थी। आज HMJ आपकी सुषमा स्वराज की जीवनी, सुषमा स्वराज की सफलता की कहानी, sushma swaraj biography in hindi, sushma swaraj biography आदि के बारे में जानकारी प्रदान करेगा।

सुषमा स्वराज की जीवनी
Sushma swaraj biography in hindi
जन्म14 feb 1953
जन्म स्थानहरियाणा ,अम्बाला कैंट
राजनीतिक दलभाजपा
शिक्षासनातन धर्म कालेज पंजाब
विश्विद्यालय चंडीगढ़
पुत्रीबासुरी
पतिस्वराज कौशल
मृत्यु6 अगस्त 2019

सुषमा स्वराज का प्रारंभिक जीवन व शिक्षा(Sushma swaraj biography in hindi)

Sushma swaraj, sushma swaraj biography in hindi, sushma swaraj ki jivani, sushma swaraj ka jivan parichay,  सुषमा स्वराज की जीवनी, सुषमा स्वराज की सफलता की कहानी, sushma swaraj related  latest news
Sushma swaraj, sushma swaraj biography in hindi, sushma swaraj ki jivani, sushma swaraj ka jivan parichay, सुषमा स्वराज की जीवनी, सुषमा स्वराज की सफलता की कहानी, sushma swaraj related latest news

सुषमा स्वराज का जन्म 14 feb 1953 को हरियाणा के अम्बाला कैंट में हुआ था। शुरुवात से इनका आर्मी जॉइन करने का सपना था। परंतु उस समय आर्मी को लड़कियों की भर्ती नही होती थी। यह एनसीसी कैडेट की टॉपर थी। एस डी कॉलेज से इन्होंने बी ए किया । उसके पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ से इन्होंने लॉ की पढ़ाई की। वहां पर इनकी दोस्ती स्वराज कौशल से हो गयी। इन्होंने नई दिल्ली सुप्रीम कोर्ट में साथ साथ प्रैक्टिस की। उसके बाद इन्होंने 1975 में शादि कर ली । स्वराज कौशल 6 साल तक राज्यसभा के सांसद भी रहे। साथ ही साथ यह मिजोरम के राज्यपाल भी रह चुके है। ये सबसे कम उम्र में बनने वाले राज्यपाल थे। और इनकी एक बेटी भी है जिसका नाम बाँसुरी है।

ये भी पढ़ें -  Dr Bhimrao Ambedkar Biography in Hindi

Sushma swaraj, sushma swaraj biography in hindi, sushma swaraj ki jivani, sushma swaraj ka jivan parichay, सुषमा स्वराज की जीवनी, सुषमा स्वराज की सफलता की कहानी, sushma swaraj related latest news

सुषमा स्वराज का राजनीतिक कैरियर

सुषमा स्वराज ने अपने राजनीतिक कैरियर की शुरुवात ABVP से की थी। पढ़ाई ख़त्म होने के बाद यह जयप्रकाश के आंदोलन में भाग ली। 1977 में हरियाणा से यह विधानसभा सदस्य के रूप में निर्वाचित हुई। और 25 साल की उम्र में ही यह कैबिनेट मंत्री बन गयी। यह दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री भी रह चुकी है।साथ ही साथ जब भाजपा के पास 1999 में सोनिया गांधी के खिलाफ लड़ने के लिए कोई विकल्प नही सूझ रहा था तो इन्होंने सुषमा स्वराज जी को आगे कर दिया। और यह 1999 में वेल्लारी से सोनिया गाँधी के खिलाफ लड़ाई परन्तु यह हर गयी थी।

ये भी पढ़ें -  मुंशी प्रेमचंद की जीवनी व निबंध || Biography And Essay On Munshi Premchand
सुषमा स्वराज के आसीन पद
1977-82हरियाणा विधानसभा सदस्य
1977-79हरियाणा सरकार में श्रम एवं रोजगार मंत्री
1987-90हरियाणा विधानसभा सदस्य
1987-90मंत्रिमंडल सदस्य शिक्षा खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति हरियाणा सरकार
1990-96 राज्यसभा में सांसद
1996-97 11 वीं लोकसभा सदस्य
1996केंद्रीय मंत्री , सूचना एवं प्रसारण
1998-99दिल्ली मुख्यमंत्री, पहली महिला मुख्यमंत्री
2000-06राज्यसभा सदस्य
2000-03सूचना एवं प्रसारण मंत्री
2003-04स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री, एवम
संसदीय विषयो की मंत्री
2009-14लोकसभा में विपक्ष की उपनेता
2009-14विपक्ष नेता एवं लाल कृष्ण आडवाणी का स्थान लिया
2014-1916 वी लोकसभा सदस्य, विदेश मंत्री

सुषमा स्वराज की उपलब्धि व समान्न

◆ भारतीय संसद की पहली महिला एकमात्र सांसद थी। जिन्हें आउटस्टैंडिंग पार्लियामैंटेरियन सम्मान मिला था।क्योंकि इन्होंने 4 राज्यों से 11 बार सीधे चुनाव लड़े थे

ये भी पढ़ें -  Top 10 Best Motivational Stories in Hindi || Success Stories in Hindi Which Are Ultimate

◆ सुषमा स्वराज भारत की किसी राजनीतिक पार्टी की पहली महिला प्रवक्ता थी।

◆सुषमा स्वराज दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री थी।

◆25 साल की उम्र में ये कैबिनेट मंत्री बनी थी।

सुषमा स्वराज का निधन

सुषमा स्वराज का 6 अगस्त 2019 को हार्ट अटैक आने से रात 11:24 मिनट में निधन हो गया था।

Sushma swaraj, sushma swaraj biography in hindi, sushma swaraj ki jivani, sushma swaraj ka jivan parichay, सुषमा स्वराज की जीवनी, सुषमा स्वराज की सफलता की कहानी, sushma swaraj related latest news

आशा है कि हमारे द्वारा दी गयी जानकारी आपको पसंद आई होगी । अगर पासन्द आयी हो तो जरूर शेयर करे।

इन्हें भी पढ़े

रविश कुमार की जीवनी

Leave a Reply