संज्ञा किसे कहते हैं – परिभाषा, प्रकार/भेद उदाहरण सहित

संज्ञा किसे कहते हैं – परिभाषा, प्रकार/भेद उदाहरण सहित

दोस्तों इस आर्टिकल में आपको संज्ञा, संज्ञा की परिभाषा, संज्ञा के प्रकार, संज्ञा के भेद उदहारण सहित बताये जायेंगे। यदि आपने hindimerijaan.com की यह पोस्ट पढ़ ली तो आपको संज्ञा बहुत अच्छे से समझ आ जाएगी। यह बहुत ही सरल topic है पर कभी-कभी tough भी लगने लगता है। यही वजह है कि हम हिंदी विषय की specially हिंदी व्याकरण की सीरीज शुरू कर रहे हैं। जिसमे आपको hindi grammar के सारे टॉपिक मिलेंगे।

संज्ञा किसे कहते हैं, संज्ञा के कितने भेद होते हैं या संज्ञा के कितने प्रकार होते हैं, संज्ञा की परिभाषा उदाहरण सहित, संज्ञा के भेद उदाहरण सहित, sangya aur uske bhed ka chart, sangya ke vakya, sangya ke bhed ka chart, jativachak sangya ke examples, 20 sangya shabd in hindi, sangya in hindi for class 4, sangya ki paribhasha udaharan sahit, aam kaun si sangya hai,

संज्ञा किसे कहते हैं, संज्ञा के प्रकार उदाहरण सहित

संज्ञा क्या है? संज्ञा की परिभाषा, संज्ञा के प्रकार , संज्ञा के भेद उदाहरण सहित || Noun in Hindi

संज्ञा की परिभाषा

उपरोक्त परिभाषा जो दी गयी थी उसको और Short करके अगर कह दें कि ‘किसी भी नाम को संज्ञा कहते हैं’ तो यह एक आसान और समझने वाली परिभाषा बन जाती है।

संज्ञा के प्रकार या भेद || संज्ञा के कितने प्रकार होते हैं या संज्ञा के कितने भेद होते हैं?

संज्ञा के भेद- कभी-कभी लोग संज्ञा के भेद (प्रकार) में कंफ्यूज हो जाते हैं। और पूछ बैठते हैं संज्ञा के कितने भेद (प्रकार) होते हैं? तो मैं आज आपका संशय दूर कर देता हूँ। आज जान लीजिए कि संज्ञा के मूलतः 3 भेद (प्रकार) होते हैं।

इन दो भेद के अतिरिक्त कुछ विद्वान संज्ञा के 2 भेद और मानते हैं – समुदाय या समूहवाचक संज्ञा एवं द्रव्यवाचक संज्ञा

अतः इस प्रकार हुए संज्ञा के 5 भेद-

संज्ञा किसे कहते हैं, संज्ञा के कितने भेद होते हैं या संज्ञा के कितने प्रकार होते हैं, संज्ञा की परिभाषा उदाहरण सहित, संज्ञा के भेद उदाहरण सहित, sangya aur uske bhed ka chart, sangya ke vakya, sangya ke bhed ka chart, jativachak sangya ke examples, 20 sangya shabd in hindi, sangya in hindi for class 4, sangya ki paribhasha udaharan sahit, aam kaun si sangya hai,

आइये अब एक-एक करके संज्ञा के सारे प्रकार विस्तार से जान लेते हैं –

1- जातिवाचक संज्ञा

जब किसी संज्ञा शब्द से उसकी सम्पूर्ण जाति का,वर्ग का बोध होता है तो उसे जातिवाचक संज्ञा कहते हैं। जातिवाचक संज्ञा के Examples उदाहरण- लड़का, लड़की, शहर, गांव आदि।

2- भाववाचक संज्ञा

जिन संज्ञा शब्दों द्वारा किसी व्यक्ति, वस्तु की स्थिति, दशा या भाव का बोध होता है उन शब्दो को भाव वाचक संज्ञा कहते हैं। उदाहरण- गुस्सा, नफरत, ख़ुशी, प्यार, गर्मी, मिठास, बुढ़ापा आदि।

3- व्यक्तिवाचक संज्ञा

जिस संज्ञा शब्द से किसी व्यक्ति, वस्तु या स्थान का नाम पता चलता है उसे व्यक्ति वाचक संज्ञा कहते हैं। उदाहरण- राम, आम, दिल्ली, आगरा, शेरू, जोजो, कोको आदि। लोग अक्सर जानना चाहते हैं कि aam kaun si sangya hai? तो मैं बता दूँ चूंकि यह फल का नाम है अतः Aam (आम) व्यक्तिवाचक संज्ञा है।

4- समुदाय या समूहवाचक संज्ञा

जब किसी व्यक्ति, वस्तु के समुदाय के एक ही वर्ग या जाति का बोध होता है तो बोध कराने वाले शब्द समूहवाचक संज्ञा कहलाते हैं। उदाहरण- ईंटो का समूह, मजदूरों का समूह आदि।

5- द्रव्यवाचक या पदार्थवाचक संज्ञा

जो शब्द किसी पदार्थ, धातु या द्रव्य को दर्शाते हैं उन्हें द्रव्यवाचक या पदार्थवाचक संज्ञा कहते हैं। उदाहरण– गेहूं, दूध, पानी, तेल, आटा, दाल आदि।

तो दोस्तों हमने जाना कि संज्ञा किसे कहते हैं, संज्ञा के कितने भेद होते हैं या संज्ञा के कितने प्रकार होते हैं, संज्ञा की परिभाषा उदाहरण सहित, संज्ञा के भेद उदाहरण सहित। अगर आपको यह आर्टिकल पसन्द आया हो तो इसे शेयर करें।

संज्ञा किसे कहते हैं, संज्ञा के कितने भेद होते हैं या संज्ञा के कितने प्रकार होते हैं, संज्ञा की परिभाषा उदाहरण सहित, संज्ञा के भेद उदाहरण सहित, sangya aur uske bhed ka chart, sangya ke vakya, sangya ke bhed ka chart, jativachak sangya ke examples, 20 sangya shabd in hindi, sangya in hindi for class 4, sangya ki paribhasha udaharan sahit, aam kaun si sangya hai,

Leave a Comment