गाँधी जयंती पर निबन्ध हिंदी में (gandhi jayanti essay in hindi ) - Hindi Meri Jaan

गाँधी जयंती पर निबन्ध हिंदी में (gandhi jayanti essay in hindi )

गाँधी जयंती पर निबन्ध हिंदी में(gandhi jayanti essay in hindi) : आज HMJ आपको गांधी जयंती की पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगे। जिसमे आपको गाँधी जयंती पर निबन्ध हिंदी में, गाँधी जयंती पर निबन्ध 200 शब्दो मे, गाँधी जयंती कैसे मानते है। भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन में गांधी जी की भूमिका आदि की जानकारी मिलेगी

gandhi jayanti essay in hindi
Gandhi jayanti par nibndh hindi me

गाँधी जयंती पर निबन्ध 200 शब्दो मे( Short essay on gandhi jayanti in 200 word)

गांधी जी के बलिदान को हम आज तक नहीं भूल पाए हैं। जैसा कि हम जानते हैं कि गांधी जी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर में हुआ था।इनके पिता का नाम करमचंद गांधी और माता का नाम पुतलीबाई था। गांधी जी सत्य और अहिंसा के पुजारी थे।और वह अहिंसा के रास्ते पर चलकर ही भारत देश को आजादी दिलाई थी।

वह भारत के स्वतंत्रता संग्राम में सबसे महत्वपूर्ण चेहरा थे।भारत को स्वतंत्रता दिलाने के लिए उनको कई बार जेल भी जाना पड़ा था।पूरा देश उन्हें राष्ट्रपिता और बाबू के नाम से जानता है। प्रत्येक वर्ष 2 अक्टूबर को गांधी जयंती पूरे देश में मनाई जाती है ।इस दिन प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति राजघाट में उपस्थित होकर उनकी समाधि पर पुष्प अर्पित करते हैं।और गांधी जी का प्रिय गीत “रघुपति राघव राजा राम ” चलाया जाता है।

अन्य जगहों जैसे सरकारी दफ्तर, स्कूल और कॉलेजों में गांधी जयंती पर विशेष कार्यक्रम रखे जाते हैं।और इसमें गांधी जी से संबंधित चीजों की जानकारी दी जाती है। तथा सभी लोग गांधी जी को पुष्प अर्पित करते हैं। गांधीजी के उनके ही शिष्य नाथूराम गोडसे ने 30 जनवरी 1948 को उनकी छाती पर तीन गोलियां मारी थी ।

जिसके पश्चात उनकी मृत्यु हो गई थी।और यह संपूर्ण देश के लिए बहुत बड़ी क्षति थी। जिसकी पूर्ति कोई नहीं कर सकता था। वह सत्य और अहिंसा के अग्रदूत थे और हमारे लिए हमेशा प्रेरणा स्रोत रहेंगे। उनकी नीतियों और अच्छाइयों का आज भी लोग आदर करते हैं।और एक उदाहरण प्रस्तुत करते हैं उनके रास्ते पर चलने के लिए।

Gandhi jayanti par nibndh, gandhi jayanti par hindi nibndh, essay on gandhi jayanti for 1 -12 students, essay on gandhi jayanti in hindi, gandhi jayanti par hindi me nibndh, gandhi jayanti information in hindi, गाँधी जयंती पर निबन्ध हिंदी में

गाँधी जयंती पर निबन्ध हिंदी में ( Gandhi jayanti essay in hindi)

गाँधी जयंती पर निबन्ध हिन्दी में(gandhi jayanti essay in hindi )

प्रस्तावना

गांधीजी एक नाम नहीं सोच है।जिन्हें भारतवर्ष नहीं संपूर्ण विश्व में जाना जाता है।यह सभी लोगों के लिए एक प्रेरणा स्रोत है।जिन्होंने अपना संपूर्ण जीवन अपने देश के प्रति समर्पित कर दिया और भारत को अंग्रेजों को गुलामी से आजाद कराया। इनके अथक प्रयासों से हम आज स्वतंत्रता पूर्वक जी पा रहे हैं। गांधी जयंती गांधी जी के जन्मदिन के दिन मनाई जाती है।यह 2 अक्टूबर को होती है इस दिन को अहिंसा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है।

गांधी जयंती क्यों मनाते हैं ?

2 अक्टूबर को गांधी जयंती मनाते हैं।और ज्यादातर लोगों को पता भी होगा कि इस दिन महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री का जन्म दिवस है ।गांधी जी के जन्मदिन के उपलक्ष्य में गांधी जयंती को मनाया जाता है। गांधीजी ने भारत को स्वतंत्रता दिलाने के लिए विशेष योगदान दिया और उन्होंने अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया था।

उन्होंने भारत की आजादी के लिए असहयोग आंदोलन और सत्याग्रह आंदोलन किया और कई बार जेल भी गए।उनके द्वारा दिए गए योगदान को भारत कभी नहीं भुला सकता । इन्हीं सब कारणों की वजह से हम गांधी जयंती मनाते हैं।और उनके द्वारा किए गए कार्यों और उन्हें सम्मान देने के लिए विशेष रुप से कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।

Gandhi jayanti par nibndh, gandhi jayanti par hindi nibndh, essay on gandhi jayanti for 1 -12 students, essay on gandhi jayanti in hindi, gandhi jayanti par hindi me nibndh, gandhi jayanti information in hindi, गाँधी जयंती पर निबन्ध हिंदी में

गांधी जयंती कैसे मनाते हैं ?

गांधी जयंती में संपूर्ण देश में बड़े-बड़े कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।और प्रत्येक लोगों को उनके नीतियों और आदर्शों से अवगत कराया जाता है।सभी सरकारी दफ्तर स्कूल और कॉलेज कॉलेजों में विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताएं, भाषण ,निबंध प्रतियोगिता आदि का आयोजन किया जाता है।

जिससे कि ज्यादा से ज्यादा बच्चे उनके जीवन से परिचित हो सके और उनके आदर्शो को अपने जीवन में उतार सके। सभी व्यक्ति इस दिन गांधीजी को याद करके उनके प्रति सम्मान प्रकट करते हैं ।बड़े-बड़े नेता राजघाट जहां पर उनकी समाधि है पर जाकर उनको पुष्प अर्पित करते हैं ।

उनका संपूर्ण जीवन सत्य और अहिंसा के रास्ते पर चलना हम सभी के लिए प्रेरणा स्रोत है। और बहुत से लोग उनके जीवन से आज भी प्रेरणा लेते हैं। और भारत ही नहीं संपूर्ण विश्व में उनके कार्यों को याद किया जाता है।2 अक्टूबर को अहिंसा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है।

गाँधी जयंती पर भाषण

स्वतंत्रता के लिए भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन में महात्मा गांधी की भूमिका(Role of gandhi ji in the indian national movement)

चंपारण आंदोलन

यह आंदोलन 1917 – 1918 के बीच में है बिहार के चंपारण जिले में वहां के जमीदारों और अंग्रेजो के द्वारा वहां के किसानों से जबरन नील की खेती करवाई जाती थी।जिसके कारण वहां की जमीन अनउपजाऊ हो जाती थी। जिसमें वहां के किसानों का साथ देने के लिए गांधी जी ने चंपारण आंदोलन प्रारंभ किया था।

सविनय अवज्ञा आंदोलन

महात्मा गांधी ने इरविन के सामने 13 जनवरी 1930 को 11 सूत्री प्रस्ताव रखा।गांधी जी द्वारा प्रस्तुत मांगों पर विचार न करने के कारण सविनय अवज्ञा आंदोलन का प्रारंभ किया गया। 12 मार्च 1930 को गांधी जी ने 78 साथियों के साथ साबरमती आश्रम से 240 मील का दांडी मार्च किया। तथा 6 अप्रैल को नमक कानून तोड़ा था।

दलित आंदोलन

1932 में जब गांधी जी जेल से छूटे। तो उन्हीने दलितो के उत्थान के लिए कई कार्य किये। उन्होंने “अखिल भारतीय छुआ छूत विरोधी लीग की स्थापना की। और 8 मई 1933 को छुआ छूत विरोधी आंदोलन चालू किया।

भारत छोड़ो आंदोलन

8 अगस्त 1942 को बम्बई में भारतीय कांग्रेस की बैठक में भारत छोड़ो आंदोलन का प्रस्ताव पारित हुआ । गांधी जी ने लोगो को करो या मरो का नारा दिया। 9 अगस्त 1942 को सभी प्रमुख कांग्रेसी नेताओं की गिरफ्तारी हुई। भारत छोड़ो आंदोलन का मुस्लिम लीग ने विरोध किया था।

उपसंहार

आजकल के बहुत से युवा गांधी जी को गलत साबित करने की कोशिश करते है। उन्हें चरित्र हीन बोलते है। पर उन्हें सही में कुछ भी नही पता होता है। आजकल के युवाओं को उनके बारे में कुछ भी बोलने से पहले उनके बारे में सम्पूर्ण जानकारी लेकर तब उनके बारे में बात करनी चाहिये।

हमें उनकी आदर्शों को सीख ले करके हमें अपने जीवन में उतारना चाहिए और आजकल सभी लोग हिंसात्मक व्यवहार करते हैं जिसे त्याग करके काली जी के अहिंसा के मार्ग को अपनाना चाहिए और सभी लोगों का भला सोचना चाहिए

Gandhi jayanti par nibndh,gandhi jayanti essay in hindi, gandhi jayanti par hindi nibndh, essay on gandhi jayanti for 1 -12 students, essay on gandhi jayanti in hindi, gandhi jayanti par hindi me nibndh, gandhi jayanti information in hindi, गाँधी जयंती पर निबन्ध हिंदी में

इसे भी पढ़े

गाँधी जयंती पर भाषण हिंदी में

Leave a Reply