बाल विकास की अवस्थाएं(Stages of Child Development in Hindi)

यहाँ पर हम बाल विकास की अवस्थाएं बताएंगे। साथ ही हर अवस्था के बारे में संक्षिप्त जानकारी जैसे की कौन सी अवस्था किस उम्र तक होती है वो भी बताएंगे।

बाल विकास अर्थ और परिभाषा तो आपको पता ही होगा। तो हम सीधे बाल विकास की अवस्थाओं (Bal Vikas ki Avsthayein) में आते हैं।

बाल विकास की अवस्थाएं
बाल विकास की अवस्थाएं

बाल विकास की अवस्थाएं (Stages of Child Development in Hindi)

बाल विकास की अवस्थाओं को डॉ• अर्नेस्ट जोन्स ने निम्न प्रकार विभाजित किया है।

  1. शैशवावस्था (Infancy)- जन्म से 5 वर्ष या 6 वर्ष।
  2. बाल्यावस्था (Childhood)- 6-11 वर्ष या 12 वर्ष
  3. किशोरावस्था (Adolescence)- 12-18 वर्ष
  4. प्रौढ़ावस्था (Adulthood)- 18 वर्ष के बाद
ये भी पढ़ें -  शाब्दिक और अशाब्दिक सम्प्रेषण - सम्प्रेषण के प्रकार

क्रो एंड क्रो ने “20 वीं शताब्दी को बालक की शताब्दी कहा है।”

ये भी पढ़ें- शैशवावस्था की परिभाषाएं

ये भी पढ़ें- शैशवावस्था की प्रमुख विशेषताएँ

बाल विकास की अवस्थाएं

तो दोस्तों ये थीं बाल विकास की अवस्थाएं। समस्त बाल विकास पढ़ने के लिए हमारी Child Development कैटेगिरी पढ़ें।

Leave a Reply