अलसी के बीज क्या हैं ? इसका उपयोग कैसे और किन बीमारियों में किया जा सकता है ?

अलसी के बीज क्या हैं ? इसका उपयोग कैसे और किन बीमारियों में किया जा सकता है ?

आज के इस आर्टिकल में हम बात करेंगे अलसी के बीज क्या हैं? और इससे कौन कौन सी बीमारियां दूर हो सकती हैं।

अलसी के बीज के फायदे
अलसी के बीज के फायदे

अलसी के बीजों को तीसी या फ्लेक्ससीड भी कहा जाता है।इसकी उपज आमतौर पर गर्म जगहों पर होती है।इसके पौधे से भारत सहित अन्य देशों में रस्सी बनाने का काम किया जाता है।

हमारे पूर्वज पुराने समय से ही इसका इस्तेमाल करते आये हैं लेकिन इसके फायदों से आजकल के लोग कुछ साल पहले तक अनजान थे।

पहले भारत में इसे सिर्फ रस्सी बनाने के लिए उत्पादित किया जाता था।लेकिन जब इसके बीजों पर रिसर्च किया गया तोइसके बहुत से फायदे सामने आये और इसे एडिबल बताया गया।

आज हम आपको अलसी बीज के विभिन्न बीमारियों में फायदे और उससे जुड़े अन्य फैक्ट्स के बारेमें बताने जा रहे हैं। 

अलसी के बीज (flaxseeds ) आपके शरीर के लिए कैसे फायदेमंद है ?

अलसी के बीजों में विशेष रूप से ओमेगा 3 फैटीएसिड, एंटीऑक्सिडेंट्स, फाइबर और अल्फा लिनोलिक एसिड पाए जाते हैं।

ये सभी कंपोनेंट विशेष रूप से ह्यूमन बॉडी के लिए काफी लाभदायक माने जाते हैं।एक रिसर्च के आधार पर ये बात सामने आयी है की अलसी में ओमेगा 3 की इतनी अधिक मात्रा पायी जाती है जितनी की मछली में पायी जाती है।

इसलिए इसका सेवन उन लोगों के लिए भी भी काफी फायदेमंद है जो वेजेटेरियन हैं।फ्लेक्ससीड का उपयोग वजन घटाने में भी काफीलाभकारी है।इसमें मौजूद लिनोलिक एसिड विशेष रूप से शरीर को विभिन्न प्रकार की बीमारियों से बचाने में मदद करते हैं। 

रोज़ सुबह भिंगोकर काले चने खाने के फायदे

अलसी के बीजों का सेवन किन बीमारियों में फायदेमंद है ?

अलसी के बीज के फायदे

डायबिटीज : अलसी के बीज विशेष रूप से शरीर में ब्लड शुगर लेवल को बैलेंस करने में काफी मददगार हैं।

इसमें मौजूद तत्व खून में ग्लूकोज की मात्रा को नियंत्रित रखते हैं, जिससे डायबिटीज की बीमारी पर काबू पाया जा सकता है।टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों के लिए इसका सेवन बेहद लाभकारी है। 

वेट कंट्रोल : फ्लेक्ससीड में घुलनशील और अघुलनशील दोनों प्रकार के फाइबर पाए जाते हैं।खाने में इसे शामिल करने से मेटाबोलिज्म रेट बढ़ता है और आपको वजन नियंत्रण करने में काफी फायदा मिलता है।सुबह के समय खाली पेट अलसी बीज का पानी पीना भी वेट कंट्रोल करने में काफी लाभकारी है।

वजन बढ़ाने के आसान तरीके

बीपी कंट्रोल करने में मददगार : अलसी के बीज खासतौर से ब्लड प्रेशर को नियंत्रण करने में भी बेहद सहायक हैं।

ये शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करके ब्लडप्रेशर सहित हार्ट की बीमारियों से भी बचाती है।लिगनेन और लिनोनिक एसिड मुख्य रूप से शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में सहायक होते हैं। 

सर्दी -जुखाम के लिए फायदेमंद : मौसम बदलने के साथ ही सामान्य रूप से सर्दी खांसी की समस्या होना आम बात है।

ऐसे में अगर आप अलसी बीज को रोस्ट करके उसका पाउडर बनाकर पानी और शहद के साथ लेते हैं तो आपको काफी लाभ मिल सकता है। 

अलसी के बीजों का सेवन आपको इन बीमारियोंकब्ज और पेट से जुड़ी अन्य समस्याओं के लिए भी काफी मददगार होती है।इसे आप रोस्ट करके ब्रेकफास्ट सीरियल, सलादऔर स्मूदी के साथ ले सकते हैं। 

पेट की चर्बी कम करने के उपाय

तो दोस्तों यह था अलसी के बीजों पर आर्टिकल कि यह हमारे लिए किस तरह से फायदेमंद है। इससे कौन सी बीमारियां दूर हो सकती हैं। इस आर्टिकल को helloswasthya.com के लेखक ने लिखकर सबमिट किया है। अगर आपके पास भी कोई अच्छा लेेेख है तो आप सबमिट कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें -  कोरोना वायरस के लक्षण, रोकथाम और उपचार [WHO द्वारा जारी]

Leave a Comment