अभिप्रेरणा का प्रत्याशा सिद्धान्त : Victor Vroom Theory in Hindi

दोस्तों इस आर्टिकल में हम समझेंगे की अभिप्रेरणा का प्रत्याशा सिद्धांत (Abhiprerna ka Prtyasha siddhant) क्या है?अभिप्रेरणा का प्रत्याशा सिद्धान्त किसने दिया? या दूसरे शब्दों में कहें तो हम जानेंगे कि विक्टर व्रूम का सिद्धांत (Victor Vroom Theory in Hindi) क्या है?

अतः इस पोस्ट में पढ़ने वाले टॉपिक को निम्न नामों से जान सकते हैं – प्रत्याशा सिद्धांत (Prtyasha Siddhant), अभिप्रेरणा का प्रत्याशा सिद्धांत (Abhiprerna ka Prtyasha Siddhant), विक्टर व्रूम का सिद्धांत( Victor Vroom ka siddhant) , Victor Vroom Theory in Hindi.

अभिप्रेरणा का प्रत्याशा सिद्धांत : Victor Vroom Theory in Hindi

प्रत्याशा सिद्धांत , Prtyasha Siddhant, अभिप्रेरणा का प्रत्याशा सिद्धांत, Abhiprerna ka Prtyasha Siddhant, विक्टर व्रूम का सिद्धांत,Victor Vroom ka siddhant ,Victor Vroom Theory in Hindi
प्रत्याशा सिद्धांत , Prtyasha Siddhant, अभिप्रेरणा का प्रत्याशा सिद्धांत, Abhiprerna ka Prtyasha Siddhant, विक्टर व्रूम का सिद्धांत,Victor Vroom ka siddhant ,Victor Vroom Theory in Hindi

विक्टर व्रूम ने अभिप्रेरणा के प्रत्याशा सिद्धांत का प्रतिपादन किया। यह सिद्धांत प्रयास, निष्पादन ,तथा प्रतिफल में सम्बन्ध बताता है।

तो दोस्तों अगर कोई आपसे पूछे कि प्रत्याशा सिद्धांत या अभिप्रेरणा का प्रत्याशा सिद्धांत किसने दिया तो आप उत्तर देंगे कि अभिप्रेरणा का प्रत्याशा सिद्धांत विक्टर व्रूम ने दिया

ये भी पढ़ें -  बाल विकास की अवस्थाएं(Stages of Child Development in Hindi)

विक्टर व्रूम ने बताया कि अभिप्रेरणा प्रत्याशा (expectancy ), कर्तृत्व (instrumentality ), सामर्थ्य ( Valence ) पर आधारित है।

इसमें तीन श्रेणियों में सम्बन्ध बताया गया। जो कि इस प्रकार हैं-

प्रयास निष्पादन सम्बन्ध (Efforts Performance Relation )-

यह किसी व्यक्ति द्वारा यह मान्यता होती है की उसके प्रयास उसे निष्पादन की और ले के जायेंगे यह हमें प्रत्याशा ( Expectancy ) के बारे में बताती है ।

प्रत्याशा से आशय है की प्रयास निष्पादन और परिणाम की और ले जायेगा। यह आत्म प्रभावित ( Self – efficacy ) पर आधारित होती है।

प्रत्याशा का मूल्यांकन सम्भाव्यता (Probability ) के रूप में किया जाता है। यह बीच घटती बढती रहती है ।

निष्पादन प्रतिफल सम्बन्ध ( Performance rewards relation )

यह किसी व्यक्ति द्वारा यह मान्यता होतू है कि कार्य निष्पादन प्रतिफल और परिणाम की और ले जाती है। यह हमें कर्तृत्व (Instrumentality) के बारे मे बताती है।

यह निष्पादन और प्रतिफल के बीच सम्बंध बताती है। यह – 1 से + 1 के बीच घटता बढता रहता है।

ये भी पढ़ें -  बाल विकास का अर्थ, परिभाषा, आवश्यकता एवं महत्व

प्रतिफल व्यक्तिगत लक्ष्य सम्बन्ध (Rewards personal goal relationship )

प्रत्येक व्यक्ति को विश्वास होता है की उसके प्रयास उसे निश्चित परिणाम की और ले जायेंगे।

परिणाम की शक्ति या प्रत्याशा जितनी अधिक होगी अभिप्रेरणा का स्तर भी उतना अधिक होगा। जिसे सामर्थ्य कहा जाता है।

इस सिद्धांत के अनुसार अभिप्रेरणा सामर्थ्य,कर्तृत्व और प्रत्याशा के मिश्रण का परिणाम है।

इसे एक सूत्र ( formula ) द्वारा भी प्रदर्शित किया जा सकता है। –

अभिप्रेरणा = सामर्थ्य × कर्तृत्व × प्रत्याशा

अभिप्रेरणा का प्रत्याशा सिद्धांत : Victor Vroom Theory in Hindi

तो उम्मीद है दोस्तों आपको प्रत्याशा सिद्धांत (Prtyasha Siddhant), अभिप्रेरणा का प्रत्याशा सिद्धांत (Abhiprerna ka Prtyasha Siddhant), विक्टर व्रूम का सिद्धांत( Victor Vroom ka siddhant) , Victor Vroom Theory in Hindi नामक यह टॉपिक समझ आ गया होगा।

ये भी पढ़ें -  विकास की दिशा का सिद्धांत

Victor Vroom Theory

If You want to Read this topic in English then Click Here

इसे भी पढ़ें- अधिगम का अर्थ एवं परिभाषा

Tags- प्रत्याशा सिद्धांत , Prtyasha Siddhant, अभिप्रेरणा का प्रत्याशा सिद्धांत, Abhiprerna ka Prtyasha Siddhant, विक्टर व्रूम का सिद्धांत,Victor Vroom ka siddhant ,Victor Vroom Theory in Hindi.

Leave a Reply